What is difference between IBPS PO and IBPS SO

What is difference between IBPS PO and IBPS SO 1

जब भारत में बैंकिंग परीक्षाओं की बात आती है, तो Institute of Banking Personnel Selection (IBPS) विभिन्न पदों के लिए विभिन्न भर्ती परीक्षा आयोजित करता है। IBPS द्वारा आयोजित दो लोकप्रिय परीक्षाएं Probationary Officer (PO) परीक्षा और Specialist Officer (SO) परीक्षा हैं। हालाँकि दोनों परीक्षाएं एक ही संगठन द्वारा आयोजित की जाती हैं, लेकिन IBPS PO और IBPS SO के बीच कुछ महत्वपूर्ण अंतर हैं जिनके बारे में इच्छुक उम्मीदवारों को पता होना चाहिए।

1. Job Roles and Responsibilities

आईबीपीएस पीओ और आईबीपीएस एसओ के बीच प्राथमिक अंतर प्रत्येक पद से जुड़ी नौकरी की भूमिकाओं और जिम्मेदारियों में निहित है।

IBPS PO: Probationary Officer एक सामान्य अधिकारी होता है जो Probation से गुजरता है और विभिन्न बैंकिंग कार्यों में प्रशिक्षित होता है। वे ग्राहक सेवा, खाता प्रबंधन, ऋण प्रसंस्करण और अन्य नियमित बैंकिंग कार्यों के लिए जिम्मेदार हैं। पीओ को आमतौर पर भविष्य में उच्च-स्तरीय पदों के लिए तैयार किया जाता है।

IBPS SO: दूसरी ओर, एक विशेषज्ञ अधिकारी बैंकिंग के एक विशिष्ट क्षेत्र का विशेषज्ञ होता है। एसओ पदों में आईटी अधिकारी, विपणन अधिकारी, मानव संसाधन अधिकारी, कानून अधिकारी, कृषि अधिकारी और बहुत कुछ शामिल हैं। प्रत्येक विशेषज्ञ अधिकारी अपने संबंधित डोमेन के लिए जिम्मेदार है और बैंक के भीतर विशेष कार्यों को संभालता है।

2. Eligibility Criteria IBPS PO AND IBPS SO

The eligibility criteria for IBPS PO and IBPS SO exams also differ to some extent.

IBPS PO: To be eligible for the PO exam, candidates must have a bachelor’s degree in any discipline from a recognized university. The age limit for PO exams is usually between 20 and 30 years.

IBPS SO: The eligibility criteria for SO exams vary based on the specialist officer position. However, most positions require a bachelor’s degree in a specific field such as IT, Marketing, Law, Agriculture, etc. The age limit for SO exams is usually between 20 and 30 years, although there may be some variations.

3. Exam Structure and Syllabus

Both IBPS PO and IBPS SO exams consist of multiple stages, including a preliminary exam, a main exam, and an interview.

IBPS PO: The PO exam includes sections on English Language, Quantitative Aptitude, and Reasoning Ability. The main exam also includes sections on General Awareness and Computer Knowledge.

IBPS SO: The syllabus for SO exams varies based on the specialist officer position. For example, an IT Officer exam may include sections on Computer Science, Programming, and Networking, while a Marketing Officer exam may include sections on Marketing Concepts, Digital Marketing, and Market Research.

4. Career Progression

Another important difference between IBPS PO and IBPS SO is the career progression path.

IBPS PO: After clearing the PO exam, candidates are appointed as Probationary Officers in various public sector banks. They undergo a probationary period and are trained in different banking functions. With experience and performance, POs can progress to higher positions such as Assistant Manager, Branch Manager, and beyond.

IBPS SO: Specialist Officers, being experts in their respective fields, have a slightly different career progression. They can rise to higher positions within their specialized domain, such as Senior IT Officer, Chief Marketing Officer, or Head of HR, depending on their area of expertise.

5. Job Availability

IBPS PO: The number of vacancies for PO positions is generally higher compared to specialist officer positions. This means that there are more opportunities available for candidates appearing for the PO exam.

IBPS SO: Specialist officer positions are relatively fewer in number compared to PO positions. However, these positions offer candidates the opportunity to work in a specialized field of their choice.

Conclusion

In summary, while both IBPS PO and IBPS SO exams are conducted by the same organization, there are significant differences between the two. The job roles, responsibilities, eligibility criteria, exam structure, syllabus, career progression, and job availability all vary between the two exams. Aspiring candidates should carefully consider their interests, skills, and career goals to determine which exam aligns better with their aspirations.

RWA के साथ जुड़कर कैसे तैयारी करें

🫴BANKING SECTOR से जुड़े हुए अभ्यर्थियों के लिए खुशखबरी, “जी हां” बिल्कुल हो जाइए तैयार क्योंकि अब RWA का बैच आप को सिलेक्शन दिलाने के लिए “FOUNDATION BATCH” आ चुका है आपके बीच में अब होगा सिर्फ और सिर्फ सिलेक्शन तो अनुभवी टीम के साथ जुड़ना कतई ना भूले 📚

👉नोट: “FOUNDATION BATCH” आप सभी के लिए बिल्कुल मुफ्त होगा इसका कोई चार्ज नहीं है यह आपको BANKING BY ROJGAR WITH ANKIT YOUTUBE CHANNEL पर मिलेगा RWA का यह आप सभी के लिए GIFT है 🎁 तो इसका जरूर फायदा उठाए और अपने साथियों को भी बताए जिससे सभी का होगा फायदा
नोट 2 : जैसा की आप सभी लोग जानते है RWA अपनी BEST रणनीति और कंटेंट और एक बेस्ट टीम के लिए जाना जाता है जिस पर % किया जा सकता है भरोसा

👇कोर्स की कुछ खास बाते👇

👉LIVE CLASSES 🗣️
👉CLASS BOARD PDF🗒️
👉EXPERIENCED TEACHERS 🧑‍🏫
👉 TELEGRAM DOUBT GROUP 🤷‍♂️

💥 16th JANUARY से FOUNDATION BATCH बैच की क्लासेस स्टार्ट हो रही है 💥

👉📞किसी भी प्रकार की सहायता के लिए हमारे हेल्पलाइन नंबर 9818489147 पर कॉल करके जानकारी प्राप्त करे समय सीमा सुबह 9:00 बजे से शाम 06:00 बजे तक ।

What is difference between IBPS PO and IBPS SO 2
What is difference between IBPS PO and IBPS SO 3

धन्यवाद 🙏🎯

Related Articles

UP POLICE BHARTI :- में आरक्षी नागरिक पुलिस/पी०ए०सी० के पदों पर कुशल खिलाड़ियों की सीधी भर्ती-2023

कृपया बोर्ड की समांक सूचना विज्ञप्ति दिनांकित 12-12-2023 द्वारा उत्तर प्रदेश पुलिस (कुशल खिलाड़ियों) की भर्ती एवं बिना पारी पदोन्नति नियमावली, 2021 के अधीन उत्तर…

UPPSC Examination 2024 Apply Online for 220 Post

UPPSC परीक्षा का विस्तृत विज्ञापन दिनांक 01.01.2024 से आयोग की वेबसाइट https://uppsc.up.nic.in पर उपलब्ध रहेगा जिसमें आनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया, शुल्क जमा करने की…

Responses

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सिपाही भर्ती की परीक्षा फिर कराने की कवायद भी शुरु | पंचायतों में 4821 पदों पर होगी भर्ती | रेलवे में NTPC के लिए अगले माह आ सकती हैं भर्ती |